बुरी नज़र से ऐसे बचायें अपने नन्हे मुन्नों को | Save your children from evil eyes | Boldsky


Very young children can not speak. That is why they tell their hunger and thirst and pain. Crying for a while is the child's natural virtue. But if the child is crying unnecessarily, then the child has come under the grip of a bad eye.Many times this takes place unknowingly or knowingly. It is said that a child often gets an eye on his parents too.Many times this takes place unknowingly or knowingly. It is said that a child often gets an eye on his parents too.

बहुत छोटे बच्चे बोल नही पाते। इसलिए वो अपनी भूख-प्यास और दर्द को रो कर बतलाते हैं। थोड़ी देर रोना बच्चे का स्वाभाविक गुण है। पर बच्चा अगर बेवजह रोता रहे तो समझिये बच्चा किसी बुरी नज़र की चपेट में आ गया है। कईं बार ये नज़र अनजाने में या जानते हुए लग जाती है। कहते है कि बच्चे को अक्सर माँ बाप की भी नज़र लग जाती है,तो फिर आइये जानें आचार्य अजय द्विवेदी से एक ऐसा उपाय जिसे करने के बाद आपका बच्चा बुरी से बुरी नज़र आपके बच्चों से दूर रहेगी।
© copyright 2015  FunPrefer Click & Play